जीवित्पुत्रिका व्रत, जानिए जितिया का महत्व और जिउतिया व्रत की कथा

जीवित्पुत्रिका व्रत (Jivitputrika Vrat), व्रत कथा और महत्वपूर्ण बातें – आज के दिन माताएं अपने बच्चों की लंबी उम्र के लिए निर्जला व्रत रखती हैं। 3 दिनों तक चलने वाले इस व्रत को सबसे कठिन व्रतों में से एक माना जाता है। जीवित्पुत्रिका व्रत (Jivitputrika Vrat) और जिउतिया व्रत कथा जीवित्पुत्रिका व्रत क्या है ?… Continue reading जीवित्पुत्रिका व्रत, जानिए जितिया का महत्व और जिउतिया व्रत की कथा

आर्थिक समस्याओं का समाधान, अब आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा

आर्थिक समस्याओं का समाधान (Arthik Samasyao Ka Samadhan), प्रत्येक मनुष्य अपने जीवन में चाहता है कि वह हमेशा आगे बढ़े इसके लिए वह पूरी लगन और मेहनत से अपना काम करता है, परंतु इसके बाद भी वह आर्थिक समस्या के चंगुल में फंस जाता हैं। तो आइए जानते कुछ आसान आर्थिक समस्याओं से छुटकारा पाने… Continue reading आर्थिक समस्याओं का समाधान, अब आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा

चंद्रशेखर आजाद की जीवनी, अल्‍फ्रेड पार्क गवाह चंद्रशेखर आजाद की मुखबिरी का

चंद्रशेखर आजाद की जीवनी Chandra Shekhar Azad Ki Jeevani, चंद्रशेखर आजाद के बारे में, चंद्रशेखर आजाद का जन्म 23 जुलाई, 1906 को मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले के भावरा गाँव में हुआ था। इनके बचपन का नाम चंद्रशेखर तिवारी था। माता का नाम जगरानी देवी और पिता का पंडित सीता राम तिवारी था। आज़ाद, बचपन… Continue reading चंद्रशेखर आजाद की जीवनी, अल्‍फ्रेड पार्क गवाह चंद्रशेखर आजाद की मुखबिरी का

सपने में पानी देखना का मतलब क्या होता है?

सपने में पानी देखना (Sapne Mein Pani Dekhna), इसके शुभ और अशुभ दोनों ही फल होते हैं। तो आइये जानते हैं सपने में पानी देखना का क्या मतलब होता है? सपने में पानी देखना का मतलब क्या होता है? सपना में साफ पानी देखना अगर आपने सपने में साफ पानी देखा है तो यह सपना… Continue reading सपने में पानी देखना का मतलब क्या होता है?

आइये जाने, श्राद्ध क्या होता है और श्राद्ध कितने प्रकार के होते हैं ?

श्राद्ध कितने प्रकार के होते हैं (Shraddha Kitne Prakar Ke Hote Hain) ? पितरों का आशीर्वाद हम पर बना रहे इसलिए उनकी आत्मा की शांति के लिए, प्रतिवर्ष श्राद्ध पक्ष आता है, जिसके दौरान उनके लिए श्राद्ध तर्पण किया जाता है। मत्स्य पुराण के अनुसार मुख्य रूप से तीन प्रकार के श्राद्ध होते है, जिन्हें… Continue reading आइये जाने, श्राद्ध क्या होता है और श्राद्ध कितने प्रकार के होते हैं ?

आईये जाने, पितृ पक्ष क्या है और पितृ पक्ष का महत्व क्या है?

पितृ पक्ष क्या है (Pitru Paksha Kya Hai) ? भारतीय शास्त्रों के अनुसार मानव पर तीन प्रकार के ऋण होते हैं- पितृ ऋण, देव ऋण और ऋषि ऋण। इनमें से पितृ ऋण सर्वोपरि होता है। पितृ ऋण में पिता के अतिरिक्त माता तथा वे सभी बुजुर्ग भी शामिल हैं, जिन्होंने हमें अपने जीवन को चलाने… Continue reading आईये जाने, पितृ पक्ष क्या है और पितृ पक्ष का महत्व क्या है?

त्रिपिंडी श्राद्ध कब करें, त्रिपिंडी श्राद्ध के फायदे

त्रिपिंडी श्राद्ध कब करें (Tripindi Shraddha Kab Kare)? अगर आपकी कुंडली में पितृ दोष है तो, आपकी कुंडली में चाहे कितने भी अच्छे योग क्यों ना हों। आपका जीवन अत्यंत संघर्षमय और कष्ट पूर्ण हो जायेगा। धन हानि, संतान हीनता, नौकरी-व्यापार में असफलता, शुभ कार्यों में विलम्ब व पारिवारिक क्लेश बना रहता है। त्रिपिंडी श्राद्ध… Continue reading त्रिपिंडी श्राद्ध कब करें, त्रिपिंडी श्राद्ध के फायदे