व्यापार वृद्धि के लिए लक्ष्मी मंत्र, व्यापार वृद्धि के लिए सिद्ध मंत्र

व्यापार वृद्धि के लिए लक्ष्मी मंत्र (Vyapar Vridhi Ke Liye Lakshmi Mantra): आजकल आर्थिक संकट से लगभग सभी लोग पीड़ित हैं। हम अनुभव किए हुए कुछ ऐसे स्वयं सिद्ध मंत्र की जानकारी दे रहे हैं, जिसे बड़ी संख्या में जप द्वारा सिद्ध करने की आवश्यकता नहीं है। प्रतिदिन एक माला (मात्र 108 बार) मंत्र का जाप करना पर्याप्त है। माला लाल चंदन या कमलगट्टे या तुलसी की ले सकते हैं। 

व्यापार वृद्धि के लिए लक्ष्मी मंत्र (Vyapar Vridhi Ke Liye Lakshmi Mantra)

व्यापार वृद्धि के लिए लक्ष्मी मंत्र
Vyapar Vridhi Ke Liye Lakshmi Mantra

व्यापार वृद्धि के लिए सिद्ध मंत्र

1. व्यापार वृद्धि हेतु इस मंत्र की एक माला प्रातः काल जपकर व्यापारिक कार्य प्रारंभ करें।  

“ॐ लक्ष्मीभ्यो नमः” 

2. व्यापार करने वाला या धन चाहने वाला रात्रि में पश्चिम दिशा की ओर मुंह करके इस मंत्र का जाप करें- 

“ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्री लक्ष्मीरागच्छागच्छ मम मन्दिरे तिष्ठ तिष्ठ स्वाहा।”

3. व्यापार में रुकावट आ रही हो अथवा घोर आर्थिक संकट हो तो प्रातः काल निम्न मंत्र का जाप करें –

“ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं त्रिभुवनपालित्यै महाजक्ष्तै अस्माकं दारिद्रयं नाशम प्रचुर धन देहि देहि क्लीं ह्रीं श्रीं ॐ।”

4. दरिद्रता दूर करने हेतु रात में पश्चिम की ओर मुख करके इस मंत्र का जाप करें- 

“ॐ ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं महालक्ष्मै नमः।” 

5. व्यापार में बराबर घाटा हो रहा हो एवं व्यापार बंद करने की स्थिति आ गई हो तो निम्न मंत्र का जाप करें-

“ॐ ह्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं श्री मेव कुरु कुरु वांछितमेव ह्रीं ह्रीं नमः।” 

6. यदि आपका धन कहीं रुका या फंसा हो तो इस मंत्र का जाप करें –

“ॐ सरस्वती ईश्वरी भगवती माता त्वतां श्रीं श्रीं मम धनं देहि फट स्वाहा।” 

7. आपका आर्थिक स्थिति बराबर ठीक रहे, इसके लिए निम्न मंत्र का जाप प्रतिदिन करें –

“ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं महालक्ष्मी ममगृहे आगच्छ आगच्छ ह्रीं नमः।” 

यह भी पढ़े – पीपल के पेड़ के फायदे, जिसके स्पर्श से कट जाते हैं पाप

Leave a Reply

Your email address will not be published.