बच्चों को होशियार कैसे बनाएं, जाने सरल उपाय

बच्चों को होशियार कैसे बनाएं (Bachcho Ko Hoshiyar Kaise Banaye), आज कल अभिभावकों को हमेशा चिंता लगी रहती है, कि वो अपने बच्चों की परवरिश कैसे करें? जिससे  उनकी मानसिक और शारीरिक विकास में कोई कमी न रह जाये और वो अपना भविष्य अच्छे से सँवार सके, तो आईये जानते है कि बचपन से उनमे ऐसा क्या संस्कार डाले, जिससे वो अपने जीवन में सफल हो सके।

बच्चों को होशियार कैसे बनाएं (Bachcho Ko Hoshiyar Kaise Banaye)

बच्चों को होशियार कैसे बनाएं (Bachcho Ko Hoshiyar Kaise Banaye),
बच्चों को होशियार कैसे बनाएं

सुबह जल्दी उठना

यह एक ऐसी आदत है, जो उन्हें दिनभर ऊर्जावान बनाये रखने में मदद करेंगी। जिसके फलस्वरूप वो अपने सारे काम भरपूर मन लगाकर कर सकेंगे।

सूर्य को जल अर्पण करना

सुबह जल्दी उठकर नित्य कर्मो से निवृत होने के बाद स्नान करके सूर्य भगवान को नियमित जल अर्पण करना सिखाएं क्योंकि सूर्योदय के समय सूर्य से निकलने वाली ऊर्जा व किरणें बुद्धि एवं शारीरिक विकास के लिए लाभदायक होती है। प्राचीन काल से हमारे ऋषि मुनि अपने आश्रमो में शिष्यों को प्रातः जल्दी उठना और  नियमित सूर्य को जल देना सिखलाते थे। इसके पीछे यही उद्देश्य था कि बच्चों की बौद्धिक क्षमता का विकास होता रहे। सुबह सूर्य को जल अर्पण करने से बच्चा स्वस्थ, सुंदर और तेजस्वी बनता है।

गणेश जी को दूर्वा चढ़ाना

सूर्य को जल अर्पण करने के बाद, बच्चों से बुद्धि के स्वामी और बुध ग्रह पर प्रभाव रखने वाले भगवान गणपति को नियमित 5 या 11 दूर्वा अर्पित करवाने की आदत डाले, इससे बौद्धिक क्षमता बढ़ती है। और माँ सरस्वती की विशेष कृपा बच्चों पर बनी रहती है।

यह भी पढ़े –